हिंदी श्री पब्लिकेशन

शुभम श्रीवास्तव ओम के निधन से व्यथित देश के चर्चित साहित्यकारों की प्रतिक्रिया

शुभम श्रीवास्तवा

स्मृति-लेखअँधेरे के पुल से जाता हुआ शुभम् श्रीवास्तव ओम-राजेन्द्र गौतमरिटायर्ड प्रोफेसर, दिल्ली विश्वविद्यालयरहा तो यहां कोई भी नहीं है, एक दिन सभी जाते हैं लेकिन इस तरह असमय जाना जिस तरह शुभम् चले गए झिंझौड़ कर रख देता है। 30-31 वर्ष की उम्र में इतनी परिपक्वता! तीन-तीन संकलनों में अपने समय की धड़कनों को दर्ज […]

शुभम श्रीवास्तव ओम के निधन से व्यथित देश के चर्चित साहित्यकारों की प्रतिक्रिया Read More »

प्रसिद्ध आईएएस अफसर डॉ. हीरा लाल को ‘रमन’ पुरस्कार से सम्मानित किया गया

आईएएस

लखनऊ, उत्तर प्रदेश – 3 मार्च, 2024 – प्रसिद्ध आईएएस अफसर और लेखक डॉ। हीरा लाल को उत्तर प्रदेश सरकार की अद्वितीय योजना के तहत राज्य कर्मचारी साहित्य संस्थान उत्तर प्रदेश द्वारा आयोजित वार्षिक पुरस्कार समारोह (२०२३-२०२४)  के विशिष्ट रमनलाल अग्रवाल ‘रमन’ पुरस्कार से सम्मानित किया गया। समारोह, लखनऊ विश्वविद्यालय स्तिथ मालवीय सभागार में आयोजित

प्रसिद्ध आईएएस अफसर डॉ. हीरा लाल को ‘रमन’ पुरस्कार से सम्मानित किया गया Read More »

विश्व पुस्तक मेला- 2024, प्रगति मैदान, नई दिल्ली में लेखक मंच से वसंत पंचमी के दिन हिंदी श्री पब्लिकेशन से प्रकाशित दस पुस्तकों का हुआ विमोचन 

विश्व पुस्तक मेला

विश्व पुस्तक मेला- 2024, प्रगति मैदान, नई दिल्ली में लेखक मंच विश्व पुस्तक मेला- 2024, प्रगति मैदान, नई दिल्ली में लेखक मंच से वसंत पंचमी के दिन हिंदी श्री पब्लिकेशन से प्रकाशित दस पुस्तकों का विमोचन सम्पन्न हुआ। पुस्तकों का विमोचन मंचासीन अतिथि वरिष्ठ कवि व लेखक पं. अनित्य नारायण मिश्र (राष्ट्रीय कवि), वेद प्रकाश

विश्व पुस्तक मेला- 2024, प्रगति मैदान, नई दिल्ली में लेखक मंच से वसंत पंचमी के दिन हिंदी श्री पब्लिकेशन से प्रकाशित दस पुस्तकों का हुआ विमोचन  Read More »

महरी उपन्यास खुद ब खुद बोलता है – रामनाथ शिवेंद्र

महरी विमोचन

महरी के कृतिकार-गिरिजा प्रसाद चौधरी ‘चंद्र’ महरी और मेंधर की गोद में का विमोचन १६-०१-२०२४ को हुआ था गिरिजा प्रसाद चौधरी ‘चंद्र’ का महरी लघु उपन्यास लम्बे अंतराल के बाद अधिदर्शक भाई की नैतिक उत्प्रेरणा से प्रकाशित हुआ है। इस उपन्यास को प्रकाश में लाने के लिए उनकी पत्नी निर्मला देवी तथा उनके पुत्रों प्रेमेंद्र

महरी उपन्यास खुद ब खुद बोलता है – रामनाथ शिवेंद्र Read More »

बैंक आफ बड़ौदा में मनाया गया विश्व हिंदी दिवस

बैंक आफ बड़ौदा

बैंक आफ बड़ौदा में मनाया गया विश्व हिंदी दिवस हिंदी को विश्व पटल पर लाने की ज़रूरत – क्षेत्रीय प्रबंधक सिविल लाइन सुलतानपुर स्थित बैंक ऑफ बड़ौदा के क्षेत्रीय कार्यालय में आज विश्व हिंदी दिवस का आयोजन किया गया।इस अवसर पर जनपद के प्रख्यात कवि व ग़ज़लकार डाॅ डी एम मिश्र मुख्य अतिथि के रूप

बैंक आफ बड़ौदा में मनाया गया विश्व हिंदी दिवस Read More »

डॉ. उषा कनक पाठक की पुस्तक ‘प्रियतम को/की पाती’ का हुआ विमोचन

usha kanak pathak

साहित्यिक धारा से सुसम्पन्न करना  है जनपद को- प्रो. शिशिर कुमार पाण्डेय मिर्जापुर के माहेश्वरी लॉन परिसर में बंग महिला से लेकर डॉक्टर उषा कनक पाठक तक के मिर्जापुर के महिला साहित्यकारों पर एक विमर्श और पुस्तक चर्चा विषयक गोष्ठी में डॉक्टर उषा कनक पाठक की हिंदी श्री पब्लिकेशन से नवप्रकाशित पुस्तक प्रियतम को/ की

डॉ. उषा कनक पाठक की पुस्तक ‘प्रियतम को/की पाती’ का हुआ विमोचन Read More »

रमाशंकर सिंह यादव कृत काव्य संग्रह 1. वेलेंटाइन डे और 2. दारूवाला का हुआ विमोचन

रमाशंकर

हिंदी श्री पब्लिकेशन से प्रकाशित हुई रमाशंकर सिंह यादव जी की काव्य संग्रह 1. वेलेंटाइन डे और 2. दारूवाला मिर्ज़ापुर। उत्तर प्रदेश साहित्य सभा, मीरजापुर इकाई के तत्वावधान में ग्राम पंचायत, कलना गहरवार, गैपुरा में पुस्तक विमोचन व कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया। कार्यक्रम के अध्यक्ष प्रसिद्ध नवगीतकार गणेश गम्भीर, मुख्य अतिथि वरिष्ठ साहित्यकार

रमाशंकर सिंह यादव कृत काव्य संग्रह 1. वेलेंटाइन डे और 2. दारूवाला का हुआ विमोचन Read More »

अधिदर्शक के काव्य संग्रह ‘दोस्त! आनंद भवन रोता है’ का हुआ विमोचन

अधिदर्शक

हिंदी श्री पब्लिकेशन से प्रकाशित हुई अधिदर्शक जी की पुस्तक “दोस्त आनंद भवन रोता है” सामाजिक परिवर्तन में साहित्यकारों का महत्वपूर्ण योगदान- शरद मेहरोत्राअधिदर्शक जी का लेखन उनके संघर्षों का गवाह- भोलानाथ कुशवाहाअधिदर्शक जी का जीवन संघर्षों से भरा रहा है- गणेश गंभीर     मीरजापुर।शहीद उद्यान नारघाट में साहित्य चेतना समाज के तत्वावधान में

अधिदर्शक के काव्य संग्रह ‘दोस्त! आनंद भवन रोता है’ का हुआ विमोचन Read More »

कवि डॉ. जय प्रकाश प्रजापति’ अंकुश कानपुरी की चार पुस्तकों का हुआ विमोचन।

जय प्रकाश प्रजापति

1. अंकुश की बाल कविताएँ2. मोनू की सीख3. कैसी हवा चली (गीत संग्रह)4. अंकुश की लघुकथाएँ विमोचित हुईं  ०८-१०-२०२३ को प्रजापति भवन दामोदर नगर में बाल साहित्य  संवर्धन संस्थान कानपुर के बैनर तले एक विशाल कवि सम्मेलन का आयोजन हुआ। जिसकी अध्यक्षता डॉ. मोहन सिंह कुशवाहा, मुख्य अतिथि श्री आनंद अमित मिर्जापुर रहे। विशिष्ट अतिथि हरि

कवि डॉ. जय प्रकाश प्रजापति’ अंकुश कानपुरी की चार पुस्तकों का हुआ विमोचन। Read More »

प्रतिमा शर्मा व अलंकृता राय की पुस्तकों का प्रयागराज में हुआ लोकार्पण

प्रतिमा

  प्रयागराज।हिंदुस्तानी एकेडमी प्रयागराज के सभागार में शनिवार,7 अक्टूबर को भदोही की कवयित्री प्रतिमा शर्मा ‘पुष्प’ की चार पुस्तकों एवं अलंकृता राय की एक पुस्तक का लोकार्पण हुआ।लोकार्पित पुस्तकों में प्रतिमा ‘पुष्प’ के तीन कहानी संग्रह-नीलांजला,दूसरी लौंग,गुलाबी आँखों का दर्द व एक काव्य संग्रह- रात खिड़कियों से तथा अलंकृता राय का कविता संग्रह- आधी कप चाय

प्रतिमा शर्मा व अलंकृता राय की पुस्तकों का प्रयागराज में हुआ लोकार्पण Read More »